22 मई 2017

अनुराग सागर मुफ़्त डाउनलोड

संसार में जितनी भी पूजा और ज्ञान प्रचलित है, ये ज्यादातर काल-पूजा है, और काल, माया के प्रभाव से, इसी में सन्तमत यानी सत्यपुरुष का भेद, सतलोक या अमरलोक का भेद, असली हंसज्ञान, आत्मा का वास्तविक ज्ञान, घुल-मिल गया है ।
आपने बहुत पुस्तकें पढ़ी होंगी । एक बार इसको पढ़ें ।
ये आपकी आँखे खोल देगी ।

यदि आप इसकी गहरायी समझ गये तो जीवन का लक्ष्य और दुनियाँ में फ़ैला धार्मिक मकङजाल आपको आसानी से समझ में आ जायेगा । आपके दिमाग में भरा जन्म-जन्म का धार्मिक कचरा साफ़ होकर सच्चे प्रभु से लौ लग जायेगी । जो सबका उद्धारकर्ता है ।


अनुराग सागर मुफ़्त डाउनलोड
size - 1 MB

https://www.pdf-archive.com/2017/05/24/anurag-sagar/



हँसदीक्षा, परमहँस दीक्षा, समाधि दीक्षा, शक्ति दीक्षा, सारशब्द दीक्षा, निःअक्षर ज्ञान, विदेही ज्ञान, सहज योग, सुरति-शब्द योग, नाद-बिन्द योग, राजयोग और उर्जात्मक ‘सहज ध्यान’ पद्धति के वास्तविक और प्रयोगात्मक अनुभव सीखने, समझने, होने हेतु सम्पर्क करें ।

               (मुख्य आश्रम)
निःअक्षर ज्ञान दीक्षा केन्द्र ॥मुक्तमंडल॥
  चिन्ताहरण आश्रम, नगला भादों
        जि. फ़िरोजाबाद, उ.प्र.
                  भारत
------------------------------
मुक्तमंडल आगरा

free download link Anurag Sagar
अनुराग सागर मुफ़्त डाउनलोड

एक टिप्पणी भेजें

Follow by Email