09 अक्तूबर 2012

चिंताहरण से लौट कर मनोज


लगभग 6 माह पहले जब श्री महाराज जी आश्रम में आये ।
3 july 2012 गुरु पूर्णिमा को आश्रम 
15 july 2012 को आश्रम में निर्माण कार्य शुरू हुआ  । 
और अब 5 oct 2012 को आश्रम
और अब 5 oct 2012 को आश्रम
आश्रम का नवनिर्मित मुख्य द्वार 
हमारे शिष्य मनोज
हमारी एक कुशल शिष्या 
हमारे शिष्य प्रदीप 
आश्रम का 1 साधु
आश्रम संस्थापक की पत्नी
हमारी एक कुशल शिष्या 
आश्रम का 1 साधु
हमारी एक कुशल शिष्या 
आश्रम में उपस्थिति लोग
हमारे शिष्य राजकुमार अरोरा
चिंताहरण मुक्त मंडल परमानन्द शोध संस्थान

एक टिप्पणी भेजें

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Follow by Email